दीपक जलाने के क्या महत्त्व है ? | अर्था | आध्यात्मिक विचार

ArthaPublished: June 29, 2017Updated: June 30, 20171 views
Published: June 29, 2017Updated: June 30, 2017

१. दीपक, प्रकाश यानि ज्ञान का प्रतीक है जो हमें विस्तृत ज्ञान देकर प्रकाशित करता है
२. प्रकाश को भगवान की तरह पूजा जाता है
३ प्राचीनतम वेद के पहले भजन - 'ऋग्वेद' में आग के देवता - अग्नि को संबोधित किया है
४. जिस तरह प्रकाश,अंधेरे क़ो दूर करता है, उसी तरह ज्ञान, अज्ञानता को दूर करता है
५. जब हम दीपक जलाते है, तो हम ज्ञान के सबसे महान स्तोत्र के आगे ख़ुद को अधीन करते हैं
६. दीपक में रखे घी या तेल हमारे नकारात्मक विचारधारा, वासनाएं, दुष्टता, और अहंकार का प्रतिक है, जो जल कर ख़त्म होने वाली है
७. दीपक कि ज्योति हमेशा ऊपर की ओर रहती है, जिसका तात्पर्य है की अगर आप ईश्वर में आस्था रखते है तो आप उन्हें अवश्य देख पायेंगे

Recommend tags
  • oil lamp lighting+1
  • oil lamp burning+1
  • oil lamp flame+1
  • significance of lighting oil lamps+1
  • lighting oil lamps+1

oil lamp lightingoil lamp burningoil lamp flamesignificance of lighting oil lampslighting oil lamps

Comments