Sawan: भगवान शिव से उतारी गई सामग्री का कभी न करें अपमान | Boldsky

BoldskyPublished: August 4, 2018
Published: August 4, 2018

Lord Shiva is fondly addressed as ‘bholenath’ for the reason that he is easily impressed with his devotee’s devotion towards him. He is the only Hindu deity, who is known for living an ascetic life with bare necessities. People offer flowers, Bel Patra and many things on Shivalinga during Sawan, but what happens when those things are taken off the idol, watch this video to find out.

#LordShiva #Sawan #SawanSomvaar

श्रावण मास चल रहा है। श्रावण मास में शिव आराधना का विशेष महत्व होता है। श्रावण मास में प्रत्येक श्रद्धालु भगवान शिव का अभिषेक पूजा आदि कर अपना जीवन धन्य करते हैं। भगवान शिव की पूजा में अभिषेक, भस्म एवं बिल्वपत्र का विशेष महत्व होता है। अक्सर देखने में आता है कि सही जानकारी के अभाव में श्रद्धालुगण इन निर्माल्य को विसर्जन करते समय किसी नदी तट या ऐसी जगह रख देते हैं, जहां इनका अनादर होता है। हमारे शास्त्रों में किसी भी देवी-देवता के निर्माल्य का अपमान करना घोरतम पाप माना गया है।

Be the first to suggest a tag

    Comments

    0 comments